मिक्स न्यूज़

Analysis: क्या बिहार में दोहरा खेल खेल रही है कांग्रेस?


प्रतीक झा पटना. लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में महागठबंधन की करारी हार ने हर पार्टी को बुरी तरह से तोड़कर रख दिया, लेकिन इसमें एक अकेली कांग्रेस (Congress) ही ऐसा पार्टी थी जिसने अपने सहयोगी दलों पर भौहें टेढ़ी कर दीं. महागठबंधन की ओर से एक किशनगंज (Kishanganj) की सीट जीतकर कांग्रेस ने अपने सहयोगी दलों के यह अहसास कराया कि अगर किसी में कोई ताकत है तो वह कांग्रेस ही है. यही कारण है कि अब बिहार कांग्रेस, बिहार की पांच विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में तीन सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए ताल ठोंक रही है. इसके लिए आलाकमान को राजी करने के लिए बिहार कांग्रेस के बड़े नेता गुरुवार को दिल्ली में सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मिलेंगे….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *